Google+ Followers

रविवार, 27 मार्च 2011

ये जोत ( ज्योति ) से जोत जलाते चलो । वाली देवी जी कौन हैं ?

एक बार मैं शिखा जी के घर गया । 
तो उन्होंने कहा - आईये..खङे रहिये । 
मैंने कहा - कमाल है मैडम ! सब कहते हैं । बैठिये प्लीज ! और आप कह रहीं हैं..कमाल है । 
तब शिखा जी ने खङे खङे ही खङी बोली में खङी खङी ( आई मीन.. मतबल खरी खरी ) सुनाते हुये कहा -  मिस्टर राजीव..जब तक मैं नारी को उसका खङा ( ऊँचा ) मुकाम नहीं दिलवा देती । खङी ही रहूँगी । 
( और दूसरी बहना ये काम चैम्बर में बैठे बैठे ) मैंयने खाली सोचा यार ..कहकर पंगा कौन लेता ?
खैर मैंने अपने लेपटाप से कहा -  कम्प्यूटर जी..जरा गुगलवा का कान उमेठ ( सर्च ) कर पता करी । कौन कौन अइसन देवी जी हैं ? जो हम आदमी लोगवा का खटिया खङी करके ही छोङी ।
कम्यूटर जी ने तुरन्त ये लाइने पेश कर दी
" नारी से बेहतर नारी को । कौन समझ पायेगा । मिल जायेगी जहां ये शक्तियां । फिर कौन हरा पायेगा ? बदल देगी हर तस्वीर । संगठन की जीत से । हर राह सुलभ हो जायेगी । एकता की जंजीर से । एक पल ठहरे जहां जग हो अभय । खोज करती हूँ उसी आधार की । " ज्योति सिंह...काव्यांजलि
झूल्लेलाल..मैंने सोचा..ये जोत ( ज्योति ) से जोत जलाते चलो । वाली देवी जी कौन हैं ?
तो मध्यप्रदेश सतना की ज्योति सिंह जी निकलीं । तो जाईये भैया । और देखिये । इनके ब्लाग पर ये कइसन खरी खरी सुनाइलवा । राम राम ..हम तो चले सन्यास लेने ।
ब्लाग..काव्यांजलि..कल्पतरु

6 टिप्‍पणियां:

आकाश सिंह ने कहा…

AApka KARYA SARAHNIYA HAI....

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

Jyoti ke darshan ho gae --hum to nihaal ho gae ji !

ZEAL ने कहा…

Glad to know her.

शिखा कौशिक ने कहा…

Rajeev ji bahut umda prastuti hai .aabhar .Jyoti ka prichay achchha laga .

शालिनी कौशिक ने कहा…

bahut dhondh machai hui hai aapne rajeev ji safal to hona hi tha aakhir jab guru ji ke peechhe chhipkar karya kar rahe ho to guru ji ka aashirvad to sang hona hi tha.jyoti ji ke blog ko yahan lane ke liye aabhar.

ज्योति सिंह ने कहा…

main aabhari bhi hoon aur sharminda bhi ,log aksar purusho ko dosh dete hai ,lekin naari aapas me sahyog ki bhavna rakkhe to kai sawal hal ho jaaye ,bas isi lakshya ko lekar yah rachna rach daali ,magar aml kaun karta yahan .main aam hoon aur insaan bane rahne ki koshish karti hoon .shukriyaan aapka .