मंगलवार, 27 अगस्त 2013

''दिल की धड़कन हिंदुस्तान ब्लोगर सम्मान ''- परिणाम





                                  परिणाम
''दिल की धड़कन हिंदुस्तान ब्लोगर सम्मान ''
विजेता -सुश्री वंदना गुप्ता 
Animated Indian Flag


''दिल की धड़कन हिंदुस्तान ब्लोगर सम्मान 
''


''सिन्दूरी सुबह है उजली हर रात है 
अपने वतन की तो जुदा हर एक बात है ''

    ऐसे ही भावों को अपने शब्दों में लिख भेजें १४ अगस्त २०१३ तक केवल इस इ मेल पर  [shikhakaushik666@hotmail.com और सर्वोतम अभिव्यक्ति के लिए पायें प्यारा सा उपहार !
शब्द सीमा -५१ शब्दों में ही समेटें अपने भारत के प्रति प्यार 
इस प्रतियोगिता में तीन प्रतिभागियों ने अपने वतन के प्रति प्यार को लिख भेजा है। जो इस प्रकार हैं -

1 -वंदना गुप्ता जी -



हिंदुस्तान 
मेरी आन मेरी शान मेरी जान
 कैसे करूँ तुम्हें प्रणाम 
शस्य श्यामला रूप तुम्हारा 
मन को लगता बहुत ही प्यारा 
 हर दिल में भरता उजास है 
विश्व पटल पर छवि तुम्हारी 
कितनी सुन्दर कितनी प्यारी 
कीर्ति पताका  फहराती रहे 
हर वाणी शौर्यगाथा गाती रहे 
दुनिया सर झुका गीत तेरे गाती रहे 


भारत माता 
उसके सर पर 
गहरा दाग है 

सीने में उसके 
अल्सर का घाव है,
अंग-अंग में -
नस-नस में 
बस गया बुखार है ।
सीने में लाइलाज
 कैंसर का शक हैं,
खून की जगह  
पानी बनने का शक है। 
वरसों से चलने 
फिरने से मज़बूर है
दिल के भीतर 
बन चुका नासूर है। 
आज का विज्ञान
,
डाक्टर-विशेषज्ञ 

रात दिन लगें है-
सभी परेशान है   
इतनी  बीमारियां
कैसे रोक थाम हो ? 
बड़ा दुख होता है 
जब ख़याल  आता है-
दोस्तों ये कोई गैर नहीं 
अपनी बीमार भारत माता है  
सोने की चिडिया थी कभी 
आज ये देश बीमारियों का ढेर है {भ्रष्टाचार,कालाबाजारी,हवाला,
लालची बड़बोले नेता ,रिश्वतखोरी,बढ़ती-महगाई ने लोगो को वीमार बना दिया है। ) 
हर तरफ फैला तबाही का शोर है 


 3 -शालिनी कौशिक जी 

''वीरों की शहादत पे करें फख्र शान से ,
सलाम- मादरे-वतन हिन्दोस्तान से .''



वंदना  जी को  इस प्रतियोगिता का विजेता चुनते समय  मेरे  मन  में एक ही भाव  आया  कि   जो  दुर्घटना   का शिकार   होने  पर भी  अपने  देश  के प्रति अपने  प्यार   का इज़हार  करने   में सबसे  आगे   रहे  वही   विजेता   हो   सकता   है   इस प्रतियोगिता का . वंदना जी आपको शीघ्र ही ''चन्दन का सौरभ '' पुस्तक की एक प्रति उपहार स्वरुप आपके द्वारा भेजे गए पते पर प्रेषित की जाएगी .वंदना जी ,शालिनी जी व् पुनीता जी -उत्साह के साथ इस प्रतियोगिता में भाग लेने हेतु हार्दिक आभार  !

शिखा कौशिक 'नूतन '


7 टिप्‍पणियां:

Shalini kaushik ने कहा…

congrats vandna ji . .श्री कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनायें .

अजय कुमार झा ने कहा…

वाह ! वंदना गुप्ता जी को ढेरों बधाई और शुभकामनाएं ।

इस प्रयास के लिए साधुवाद

अनाम ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति..
---
हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच} के शुभारंभ पर आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी पोस्ट को हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल में शामिल किया गया है और आप की इस प्रविष्टि की चर्चा {रविवार} (01-09-2013) को हम-भी-जिद-के-पक्के-है -- हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल चर्चा : अंक-002 पर की जाएगी, ताकि अधिक से अधिक लोग आपकी रचना पढ़ सकें। कृपया पधारें, आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा |
---
सादर ....ललित चाहार

vandan gupta ने कहा…

शालिनी जी आपने मुझे इस काबिल समझा उसके लिये ह्रदय से आभारी हूँ । सच कहूँ तो मुझे तो याद भी नहीं कि मैने कब भेजा हाँ ये याद है कि ये लिखी भी और भेजी भी मगर कब ये याद ही नहीं :)। जैसे ही आपके द्वारा भेजा पुरस्कार प्राप्त होगा आपको सूचित करूँगी ।

पूरण खण्डेलवाल ने कहा…

वन्दना जी को बधाई !!

Tayal meet Kavita sansar ने कहा…

बहुत सुन्दर सृजन, बधाई

Unknown ने कहा…

Nice Article sir, Keep Going on... I am really impressed by read this. Thanks for sharing with us.. Happy Independence Day 2015, Latest Government Jobs. Top 10 Website