Google+ Followers

शनिवार, 15 जून 2013

नया ब्लॉग -कोरा कागज़

My Photo
I write something when ever I feel like.

वक्त ने जो कुछ भी अनुभवों घटनाओं और विचारों की स्याही से इस जीवन के कोरे कागज पे 


1 टिप्पणी:

Shalini Kaushik ने कहा…

.उम्दा प्रस्तुति आभार . मगरमच्छ कितने पानी में ,संग सबके देखें हम भी . आप भी जानें संपत्ति का अधिकार -४.नारी ब्लोगर्स के लिए एक नयी शुरुआत आप भी जुड़ें WOMAN ABOUT MAN "झुका दूं शीश अपना"